Man Ki Abhilasha मन की अभिलाषा

 



प्रस्तुत काव्य सृजन शीर्षक मन की अभिलाषा एक मौलिक काव्य संग्रह है।इस पुस्तक में कवि ने अपने सहज रचनाधर्मिता का परिचय दिया है। सभी कविताएँ अपने आप में बेजोड़ है कवि ने जो जिया है उसे ही लिखा है। कुल करीब 84 कविताओं का एक अमुल्य संग्रह है।इस पुस्तक में हास्य, के साथ प्रभु वंदना के साथ ही गम्भीर किस्म के साथ मन की भावनाओं को ब्यक्त किया है। ये पुस्तक अर्चना पब्लिकेशन के साथ मिलकर प्रकाशित किया गया है। एक उच्चकोटि की काव्य संग्रह है ।

सुधि पाठकों के लिए सहज निवेदित यह काव्य-कर्म प्रेरणादायी है।

Writer :- Jagdish Narayan Gupta


Book Details:-
Book Type :- Paperback
Number of Pages :- 136 Excluding Cover Pages
Genre :- Poems